सदर अस्पताल के डॉक्टर की लापरवाही अपेंडिक्स के ऑपरेशन में काट दी आंत

0
4

सदर अस्पताल के डॉक्टर की लापरवाही, अपेंडिक्स के ऑपरेशन में काट दी आंत

मामले को गंभीरता से लेते हुए आयोग के सदस्य प्रवीन दावर ने 19 अक्टूबर 2016 को पत्र जारी कर पूरे मामले की जांच का आदेश डीएम को दिया है। पत्र पर जिलाधिकारी ने आइसीडीएस के जिला कार्यक्रम पदाधिकारी मो.कबीर को जांच करने के लिए कहा है।

निजी क्लीनिक पर ऑपरेशन के लिए मांगे थे 20 हजार

पीडि़त महिला नूरैशा खातून कुढऩी क्षेत्र के थतियां की रहने वाली है। उसके देवर गुलाम मुर्तुजा ने आयोग को लिखे पत्र में आरोप लगाया है कि पेट में दर्द की शिकायत होने पर नूरैशा खातून को चिकित्सक डॉ. एसएन चौधरी के बैंक रोड स्थित निजी क्लीनिक पर इलाज के लिए ले गया। वे सदर अस्पताल के डॉक्टर भी हैं।

डॉक्टर ने जांच के बाद अपेंडिक्स बताते हुए ऑपरेशन की सलाह दी। खर्च 20 हजार रुपये बताया। इतनी रकम नहीं होने के कारण मजबूरी में तीन अगस्त 2016 को सदर अस्पताल में नुरैशा को भर्ती कराया गया। चार अगस्त को ऑपरेशन डॉ.एसएन चौधरी ने ही किया।
मुर्तुजा ने आरोप लगाया कि चिकित्सक सदर अस्पताल में ऑपरेशन कराने से काफी नाराज थे। ऑपरेशन के बाद महिला की हालत बिगड़ गई। इसके बाद नौ अगस्त को एसकेएमसीएच रेफर कर दिया गया। स्थिति गंभीर देख कर वहां से पटना रेफर कर दिया गया।
पटना के एक निजी अस्पताल में जब अल्ट्रासाउंड हुआ तो आंत कटे होने की बात सामने आई। इससे महिला के अंदरुनी हिस्सों में संक्रमण हो गया था। ऑपरेशन के बाद उसकी जान बच सकी।
SHARE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here