अगर आपको है अंडा खाने का शौक तो यह खबर जरूर पढ़ें

0
9

अगर आपको है अंडा खाने का शौक तो यह खबर जरूर पढ़ें!

इस दुनिया में बहुत से लोग ऐसा सोचते हैं कि एग यॉक यानी अंडे की जर्दी खाना सेहत के लिए बहुत नुकसानदायक होता है. लेकिन हम आपको इससे जुड़ी कुछ ऐसी सच्चाई और मिथ से अवगत कराने जा रहे हैं जिससे आपके मन इससे जुड़े जो भी नकारात्मक सवाल हैं वो पूरी तरह खत्म हो जायेंगे…

1-जो लोग ये सोचते हैं कि एग यॉक से मोटापा बहुत ज्यादा बढ़ता है ये सिर्फ एक मिथ है. दरअसल वजन बढ़ने का कारण शुगर है न कि अंडे की जर्दी यानी एग यॉक . एग यॉक में कोई शुगर एलीमेंट मौजूद नहीं होता. बॉडी को बेसिक एमाउंट ऑफ ऑयल ही रिक्वॉयर्ड होता है. ऐसे में यॉक की ओवरईटिंग नहीं की जा सकती जबकि मीठे चीजों कीओवरईटिंग भी की जा सकती है.

2-अंडे की जर्दी खाने से बॉडी को विटामिन बी12 मिलता है. आमतौर पर विटामिन बी12 एनीमल फूड से मिलता है. ऐसे में जो लोग फिश, चिकन या मीट फूड नहीं खाते वे विटामिन बी12 की कमी को पूरा करने के लिए एग यॉक और पूरा एग खा सकते हैं.

3-ध्यान रहें अंडे की जर्दी गर्मियों में नहीं खाना चाहिए क्योंकि उसकी तासीर बहुत गर्म होती है. सही मायने में अंडा खाने का टाइम अप्रैल से पहले तक और सितंबर के बाद का है. यानि सितंबर से मार्च तक का मौसम थोड़ा ठंडा रहता है तो आप इस मौसम में अंडा आसानी से खा सकते हैं.

4-जो लोग वजन कम करते हैं उनकी कैलोरी वैसे भी कंट्रोल की जाती है तो इसलिए इन्हें बहुत ज्यादा विदआउट अंडे की जर्दी खाने की परमिशन नहीं दी जाती. यानि अंडे की जर्दी उन लोगों को नहीं खाना चाहिए जो कार्डिएक पेशेंट हैं और जो वेट लॉस कर रहे हैं. लेकिन टीनेजर्स, किड्स, बढ़ते बच्चों को अंडे की जर्दी दिया जा सकता है.

5-अंडे की जर्दी खाना इन बातों पर भी निर्भर करता है कि आप किस चीज के साथ एग और अंडे की जर्दी खा रहे हैं. आपकी कुकिंग टेक्नीक क्या हैं. आपके मील का कैलोरी काउंट क्या है. दिनभर में मील खाने की फ्रीक्वेंसी क्या है और आप कितनी फीजिकल एक्टिविटी कर रहे हैं. ऐसे में कुछ भी खाने से पहले इन सभी बातों का ध्यान रखना भी बहुत ही आवश्यक हो जाता है.

SHARE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here